अपने आदेशों की समीक्षा नहीं कर सकती अदालतें

उच्चतम न्यायालय ने कहा है कि लिपिकीय या गणितीय भूल को छोड़कर अदालतों को अपने आदेश या फैसलों की समीक्षा की कोई निहित शक्ति प्राप्त नहीं है। सीआरपीसी की धारा 362 का उल्लेख करते हुए […]