अदालत में मोबाइल का इस्तेमाल अवमानना नहीं

mobileमद्रास हाईकोर्ट की मदुरै पीठ ने कहा है कि अदालत में मोबाइल को वाइब्रेशन में रखने और अदालती कार्रवाई को बाधित किए बिना एसएमएस देखना या काल का जवाब देना अदालत की अवमानना के अपराध में नहीं आता है।

न्यायाधीश के चंदू्र ने वकील के नीलमगम की ओर से दायर की गई याचिका को खारिज कर दिया। इस याचिका में एक राजस्व मंडलीय अधिकारी दुर्गामूर्ति को अदालत के भीतर मोबाइल का इस्तेमाल करने के मामले में दंडित करने की मांग की गई थी।

अदालत ने कहा कि इस तरह की हरकत को न्यायिक प्रशासन की कार्यप्रणाली में बाधा डालना नहीं कहा जा सकता

VN:F [1.9.22_1171]
Rating: 9.0/10 (1 vote cast)
अदालत में मोबाइल का इस्तेमाल अवमानना नहीं, 9.0 out of 10 based on 1 rating
Print Friendly, PDF & Email

2 thoughts on “अदालत में मोबाइल का इस्तेमाल अवमानना नहीं”

  1. please send latest judgement by supreme / high court regarding muslim divorced woman while her parent is well prosper than her husband.

    VA:F [1.9.22_1171]
    Rating: 0 (from 0 votes)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)