पति ने ही बना कर दी जायदाद, लेकिन पत्नी ने निकाल बाहर किया! अब देगी गुजारा भत्ता

तलाक हो जाने पर पति पत्नी को मासिक खर्च देता है. लेकिन अगर पत्नी ज्यादा कमाती है तो उसे भी पति को खर्चा देना होगा. दिल्ली हाई कोर्ट ने एक महिला को आदेश दिया है कि अपने पति को 20 हजार रुपये महीना दे. दिल्ली हाई कोर्ट ने निचली अदालत के एक फैसले को सही ठहराया है.

इस मामले में पत्नी का अच्छा खासा व्यापार है जबकि पति गरीबी से जूझ रहा है. दिल्ली के कड़कड़डूमा कोर्ट ने पत्नी को आदेश दिया था कि पति को मासिक खर्च दे.

दिल्ली हाई कोर्ट ने इस फैसले पर मुहर लगाते हुए कहा कि क्रिमिनल प्रोसीजर कोड की धारा 125 के तहत पत्नी को अपने पति को गुजारा भत्ता देना चाहिए. जस्टिस जीएस सिस्तानी ने कहा कि पत्नी के पास चार कारें हैं उनमें से एक पति को दी जाए.

जज ने इस बात पर जोर दिया कि पत्नी को अपने पति को सम्मानजनक खर्च देना चाहिए क्योंकि उसके बीते सालों के इनकम टैक्स रिटर्न से पता चलता है कि उसकी सालाना आय एक करोड़ रुपये के आसपास है. महिला ग्रेटर नोएडा में स्टूडेंट होस्टल चलाती है.

इस बारे में पति के वकील भूपेंद्र प्रताप सिंह ने तर्क दिया था कि छात्रों के लिए यह हॉस्टल 2002 में पति ने ही बनवाया था लेकिन बाद में महिला और उसके बच्चों ने उसे इस जायदाद के हक से बाहर कर दिया.

VN:F [1.9.22_1171]
Rating: 0.0/10 (0 votes cast)
Print Friendly, PDF & Email

3 thoughts on “पति ने ही बना कर दी जायदाद, लेकिन पत्नी ने निकाल बाहर किया! अब देगी गुजारा भत्ता”

  1. पति बेचारा अपनी ही ग़लती का शिकार बना बेनामी जायदाद बनाकर। अब न्यायालय तो न्याय करेगा ही। इस पर उच्चतम न्यायालय की मुहर लग जाए तो अखिल भारतीय प्रभाव होगा।

    VA:F [1.9.22_1171]
    Rating: 0 (from 0 votes)
  2. जिस प्रकार पत्नी स्त्री हिँसा का शिकार होती है पति भी हिँसा का शिकार होते हैँ , यह निर्णय पुरुषोँ के प्रति महिलाऔँ को भी दायित्तव प्रर्दशित कर जवावदेह बनाता है । अच्छा फैसला है

    VA:F [1.9.22_1171]
    Rating: 0 (from 0 votes)
  3. हर वो भारतवासी जो भी भ्रष्टाचार से दुखी है, वो देश की आन-बान-शान के लिए समाजसेवी श्री अन्ना हजारे की मांग "जन लोकपाल बिल" का समर्थन करने हेतु 022-61550789 पर स्वंय भी मिस्ड कॉल करें और अपने दोस्तों को भी करने के लिए कहे. यह श्री हजारे की लड़ाई नहीं है बल्कि हर उस नागरिक की लड़ाई है जिसने भारत माता की धरती पर जन्म लिया है.पत्रकार-रमेश कुमार जैन उर्फ़ "सिरफिरा"

    VA:F [1.9.22_1171]
    Rating: 0 (from 0 votes)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)