मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय के नवनियुक्त मुख्य न्यायाधीश ने कार्यभार संभाला

मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय के नवनियुक्त मुख्य न्यायाधीश सैयद रफत आलम को राज्यपाल रामेश्वर ठाकुर ने 20 दिसम्बर को राजभवन में सादा एवं गरिमामय समारोह में पद की शपथ दिलाई। वे मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय के बीसवें चीफ जस्टिस होंगे। जस्टिस आलम इससे पहले इलाहाबाद उच्च न्यायालय में वरिष्ठ न्यायाधीश के रूप में कार्यरत थे। मध्य प्रदेश के मुख्य न्यायाधीश का पद जस्टिस एके पटनायक की सुप्रीम कोर्ट में नियुक्ति के बाद रिक्त हुआ था।

समारोह में मुख्यमंत्री, नेशनल ज्यूडिशियल अकादमी के महानिदेशक, वित्त मंत्री , उद्योग मंत्री , पंचयात एवं ग्रामीण विकास मंत्री , संसदीय एवं विधि कार्य मंत्री, राजस्व एवं पुनर्वास मंत्री, महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री ,गृह विभाग के प्रमुख सचिव, डीजीपी के अलावा न्यायिक क्षेत्र से जुड़ी हस्तियां मौजूद थीं।

मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश सैयद रफत आलम ने शपथ लेने के बाद कहा कि न्याय में देरी नहीं होना चाहिए। हर व्यक्ति को न्याय मिलना चाहिए। पत्रकारों से अनौपचारिक चर्चा के दौरान उनसे पूछा गया था कि सुप्रीम के मुख्य न्यायधीश केजी बालाकृष्णन ने कहा है कि न्याय में देरी होने पर लोग बगावत कर सकते है। जस्टिस आलम ने कहा कि मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय का मुख्य न्यायाधीश बनने पर बहुत अच्छा लग रहा है। प्रदेश का उच्च न्यायालय सर्वोत्तम है। मध्यप्रदेश की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि यहां के लोग बहुत अच्छे हैं, अधिवक्ता बेहतर हैं। समस्या क्या होगी, यह तो देखने के बाद ही बताया जा सकेगा।
VN:F [1.9.22_1171]
Rating: 0.0/10 (0 votes cast)
Print Friendly, PDF & Email

One thought on “मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय के नवनियुक्त मुख्य न्यायाधीश ने कार्यभार संभाला”

  1. Sir..दैनिक बेतन भोगी कि अनुकम्पा नियुक्ति क्यों चालू नहीं कि जा रही..

    VA:F [1.9.22_1171]
    Rating: 0 (from 0 votes)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)